बालिकाओं के प्रोत्साहन के लिए सरकार ने शुरू की नई योजना


जयपुर
राजस्थान में बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य राज सरकार ने एक बार फिर बालिकाओं के लिए नई योजना संचालित की है। जिसके तहत कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका नियमित अध्ययन रहकर कक्षा आठ करने वाली छात्राओं को स्नातकोत्तर तक करने पर माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से प्रोत्साहन स्वरूप विशेष सावधि जमा रसीद योजना से लाभान्वित किया जाएगा।

इसको लेकर माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने रविवार को प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को आदेश पत्र जारी कर पात्र बालिकाओं के प्रस्ताव भेजने के निर्देश जारी किए हैं।

इन्हें मिलेगी राशि
इस योजना के तहत कक्षा 10 में न्यूनतम 50% या अधिक अंकों से उत्तीर्ण कर सत्र 2020-21 में राजकीय विद्यालय में कक्षा 11 में अध्ययनरत छात्राओं को ₹2000 5 वर्ष की अवधि के लिए देय होंगे।

कक्षा 12वीं में न्यूनतम 50% अंकों से अधिक अंक लाकर स्नातक में प्रथम वर्ष में दाखिला लेने पर ₹4000 दे होंगे। स्नातक उत्तीर्ण करने उपरांत छात्रा राशि आहरित करवा सकेगी।

यह रहेगी पात्रता
सत्र 2017-18 में किसी बालिका ने केजीबीवी से आठवी उत्तीर्ण की हो, शैक्षिक सत्र 2019-20 के बीच में किसी राजकीय विद्यालय में अध्यनन कर 50% अथवा इससे अधिक अंक हासिल कर 10वीं परीक्षा उत्तीर्ण की हो तथा शैक्षिक सत्र 2020-21 में किसी राजकीय विद्यालय में कक्षा 11वीं में अध्ययनरत हो।

वही शैक्षिक सत्र 1920-21 में किसी राजकीय विद्यालय में अध्ययन कर कक्षा 12वीं में 50% अथवा इससे अधिक अंक से 12वीं उत्तीर्ण कर  2020-21 में  राजकीय अथवा गैर राजकीय महाविद्यालय में स्नातक स्तर के प्रथम वर्ष में दाखिला लिया हो।

बीच में अध्ययन छोड़ा तो
योजना के तहत एक बार पात्र हुई बालिकाओं को योजना के तहत नियमित न्यूनतम शिक्षा ग्रहण करना जरूरी होगी। यदि बालिका बीच में अध्यनन छोड़ देती है तो वह योजना के तहत अपात्र हो जाएगी और उसे किसी भी तरह की राशि नहीं मिलेगी। बाद में इस राशि पर सीधा स्वामित्व राज्य सरकार का ही होगा।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post